Plagiarism Kya Hota hai : Plagiarism Checking Free Tool

  1. अगर आप एक ब्लॉगर हैं तो आपको पता होना चाहिए Plagiarism क्या होता है, Plagiarism कैसे check करते हैं,  copyright copy content किसे कहते हैं। क्योंकि यह सब आपको ब्लॉगिंग में बहुत ही ज्यादा मदद करेगी।
Plagiarism Kya Hota hai : Plagiarism Checking Free Tool

 

Plagiarism क्या होता है या Plagiarism किसे कहते है?

Plagiarism का मतलब होता है किसी दूसरे व्यक्ति के कांटेक्ट को उसके असली मालिक के अनुमति के बिना चुरा कर अपने उपयोग में लेना।
 मतलब की मान लीजिए आपने कोई दूसरे के वेबसाइट या ब्लॉग से कुछ कांटेक्ट को कॉपी कर लेते हैं वह कांटेक्ट कुछ भी हो सकता है फोटो वीडियो टेक्स्ट कुछ भी उसके असली मालिक की मर्जी के बिना अगर आप उसे कॉपी करके अपने वेबसाइट या ब्लॉग में यूज करते हैं तो वह Plagiarism होता है।

Content copy करने के नुकसान और फायदे

अगर आप किसी के भी कांटेक्ट को कॉपी करते हैं तो उसका कोई भी फायदा नहीं है बल्कि उसका नुकसान ही है अगर आप किसी के कांटेक्ट को कॉपी कर रहे हैं और उसका यूज़ कर रहे हैं,
 तो आपका ब्लॉग बंद हो सकता है या फिर आपका ब्लॉग गूगल के सर्च रिजल्ट में नहीं आएगा या फिर गूगल आपके वेबसाइट के यूआरएल को ब्लॉक कर सकता है।
 मतलब देखा जाए तो किसी के भी कांटेक्ट को कॉपी करना बहुत ही ज्यादा नुकसान हो सकता है इसलिए आप किसी के भी ब्लॉक के कॉन्टेंट को कॉपी ना करें आप अपना खुद का कांटेक्ट बनाइए।

Plagiarism Checker Tool

 इंटरनेट पर बहुत सारे Plagiarism check करने के लिए फ्री टूल्स है जिसका आप उपयोग करके अपने ब्लॉक के कांटेक्ट का Plagiarism check कर सकते हैं,
मैं आपको 2-3 वेबसाइट का लिंक दे रहा हूं जिससे आप अपने कांटेक्ट को कॉपी करके उस वेबसाइट में पेस्ट करके Plagiarism को चेक कर सकते हैं।

Plagiarism कैसे Check करे

अगर आपने कोई भी कांटेक्ट बनाया हुआ है या लिखा हुआ है तो उसका Plagiarism check करना जरूरी है, मान लीजिये आपने कोई कांटेक्ट लिखा हुआ है और वह कांटेक्ट कोई व्यक्ति पहले से ही अपने वेबसाइट पर लिखकर पब्लिश किया हुआ है।
तो ऐसे में आपको  copyright issue आ सकता है इसके लिए आपको Plagiarism को Check करना होगा, Plagiarism Check  करना बहुत ही आसान है आप इसको फ्री में ही चेक कर सकते हैं।
आपको इस वेबसाइट को ओपन करना है और उसमें जाकर इस बॉक्स में अपने कांटेक्ट को कॉपी करके पेस्ट कर देना है और उसके बाद आपको नीचे Check Plagiarism के ऊपर क्लिक कर देना है।
how to Plagiarism check

 

अब थोड़ी देर बाद यह टूल चेक करके बताएगा कि आपके कांटेक्ट में कितना यूनिक है और कितना Copyright,
Plagiarism Kya Hota hai

 

अगर यह टोल आपको बताता है कि आपके इस लाइन को पहले से किसी ने पब्लिश किया हुआ या Copyright है तो आपको उस लाइन को अपने पोस्ट में एडिट कर लेना है और फिर आपको Plagiarism को चेक करना है।
इसी प्रकार आपको अपने सभी कांटेक्ट को कॉपी पेस्ट करके चेक करना है और उसमें सुधार कर लेनी है जिससे आपको आगे चलकर Copyright ना आए।
तो दोस्तों अब आपको पता चल गया है कि फ्लैग रीजन क्या होता है और प्लेगेरिज्म को कैसे चेक किया जाता है अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो हमें कमेंट करके बताएं और भी जानकारी के लिए इस ब्लॉग पर सर्च करें।

Anurag Singh

हेलो दोस्तों मेरा नाम अनुराग सिंह है और मै इस blog का owner हूं, मैं Steck Point पर लोगों को ब्लॉगिंग और टेक्नोलॉजी में लोगो की मदद करता हूं, क्योकि मुझे यह बहुत अच्छा लगता है, और मेरा यूट्यूब चैनल भी है, और मैं एक वेब डिजाइनर भी हूं

Leave a Reply